साल 2014 में भाजपा ‘केंद्र की सत्ता’ में आई है। उसके बाद ‘देश’ में जितने भी चुना’व हुए हैं, उनमें इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन का प्रयोग हुआ है. लेकिन अब जो खबर सामने आ रही है कि महाराष्ट्र के ‘ठाकरे सरकार’ ने ‘ईवीएम’ को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है. दरअसल ‘महाराष्ट्र सरकार’ जल्द ही राज्य में बैलेट-पेपर के साथ चुना’व कराने की तैयारी में जुट गई है. ‘महाराष्ट्र सरकार’ द्वारा यह फैस’ला बीजेपी के शासन में ईवीएम पर उठने वाले ‘सवालों’ को देखते हुए लिया गया है.

माना जा रहा है कि महा’राष्ट्र के ‘मुख्य’मंत्री ‘उद्धव ठाकरे’ की सरकार बैलेट-पेपर से चुनाव’ करवाने के लिए कानून बना सकती है. जिसके बाद महाराष्ट्र में होने वाले सभी चुनाव-बैलेट पेपर से ही होंगे. मीडिया रिपोर्ट से मिली जानकारी के अनुसार ‘विधानसभा बजट-सत्र’ में बैलेट-पेपर से चुनाव कराने के लिए राज्य सरकार कानून ला सकती है, और उसके लिए ड्राफ्ट भी तैयार किया जा रहा है.

महाराष्ट्र-विधानसभा-अध्यक्ष “नाना पटोले” ने एक इंटरव्यू में बैलेट-पेपर पेपर के इस्तेमाल की पुष्टि की है। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक “नाना पटोले” ने महाराष्ट्र की ‘उद्धव ठाकरे सरकार’ को राज्य में EVM के साथ बैलेट-पेपर से भी चुनाव कराने के लिए ड्राफ्ट तैयार करने के लिए निर्देश दिए हैं.बताया जा रहा है कि अगर अगले महीने में यह ‘कानून’ ड्राफ्ट हो जाता है तो ‘मार्च’ में होने वाले विधानसभा के बजट-सत्र के दौरान ‘एसएसपी’ कर दिया जाएगा.

विधानसभा में यह बिल पास होने के बाद ‘महाराष्ट्र’ में कोई भी चुनाव’ होंगे तो उन चुनावों को बैलेट-पेपर से ही कराया जा सकता है. इसके अलावा लोकसभा-चुनाव में भी महाराष्ट्र-सरकार द्वारा बैलेट-पेपर के साथ ही ‘मतदान’ करवाए जाने की बात कही जा रही है.राज्य की महा’गठबंधन सरकार के तीनों दल – शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस इस मामले पर एक’मत माने जा रहे हैं. अब ऐसे में देखना होगा कि ‘महाराष्ट्र’ की मुख्य विपक्षी-पार्टी बीजेपी इसका विरोध करती है या फिर नहीं।

Post navigation