क्या विधानसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार यूपी में से बनाने जा रही नया राज्य, जानें क्या है सच्चाई..

June 15, 2021 by No Comments

उत्तर प्रदेश में साल 2022 में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले के राजनीतिक बदलाव देखने को मिल रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी और आरएसएस के नेताओं की आए दिन होने वाली बैठक से चर्चाओं का बाजार काफी गर्म हो गया है। ऐसे में इस सोशल मीडिया पर एक खबर तेजी से वा’यरल हो रही है।

जिसमें यह दावा किया जा रहा है कि जल्द ही उत्तर प्रदेश राज्य को दो या तीन भाग जाने की हिस्से में बांटा जा सकता है। जिसे लेकर केंद्र में सत्तारूढ़ मोदी सरकार और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार मंथन करने में जुट गए हैं। इसके साथ ही सोशल मीडिया पर वा’यरल हो रहे इस पोस्ट में यह भी दावा किया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव से पहले ही राज्य का विभाजन करने पर मंथन किया जा रहा है।

CM Yogi Adityanath


ऐसे में उत्तर प्रदेश के विभाजन करने राज्यों को बनाने की खबर के दावे में क्या हकीकत है। इस बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं। दरअसल सोशल मीडिया पर वा’यरल हुआ पोस्ट एक न्यूज चैनल का है। जिसमें दावा किया जा रहा है कि यूपी विधानसभा चुनाव से पहले पूर्वांचल को अलग राज्य बनाया जा सकता है।

इसके साथ ही वा’यरल पोस्ट में भी यह भी दावा किया गया है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी के बीच हुई मीटिंग के दौरान इस मुद्दे पर सहमति भी बनने वाली है। इसके साथ ही यह भी वायरल पोस्ट में दावा किया जा रहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा में योगी के पास पूर्ण बहुमत है।

साथ लोकसभा और राज्यसभा में भी इस प्रस्ताव को पास कराने में किसी तरह की अ’ड़चन भी नहीं आएगी। ऐसे में सोशल मीडिया पर वा’यरल हो रहे इस मैसेज को पीआईबी फैक्ट चेक द्वारा जांच के बाद पूरी तरह से फ’र्जी ठहरा दिया गया है।

पीआईबी फैक्ट चेक ने अपने आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट के जरिए ट्विटर पर लिखा है कि एक खबर में दावा किया गया है कि केंद्र सरकार उत्तर प्रदेश को दो-तीन हिस्सों में विभाजित करने और पूर्वांचल को अलग से राज्य बनाने पर विचार कर रही है। यह दावा फ’र्जी है। केंद्र सरकार उत्तर प्रदेश के अलग हिस्से करने से संबंधित कोई विचार नहीं कर रही है।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश केंद्र की राजनीति में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसीलिए सभी राजनीतिक दल उत्तर प्रदेश पर जीत हासिल करने को बेताब रहते हैं। अगले साल होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए सभी राजनीतिक दलों ने अभी से ही तैयारियां भी शुरू कर दी है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *