कोरोना वाय’रस के इस बढ़ते संक’ट ने हिन्दुस्तान को भी पूरी तरह अपने च’पेट में ले लिया है। बता दें कि हिंदुस्तान में अब तक इस वाय’रस से संक्र’मित लोगों की संख्या ब’ढ़कर 24,506 हो गई है। वहीं बता दें कि इस वाय’रस से अब तक 775 मौ’तें भी हो चुकी है। वहीं बात करे उत्तर प्रदेश की तो वहा भी कोरोना से संक्र’मित 1604 लोगों की संख्या सामने अाई है। जिसमें से 24 लोगों की मौ’त भी हो चुकी है। जिसको देखते हुए अब यूपी सरकार की नजर अब एक बद’लाव की तरफ है। बता दें कि प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि अब तक यूपी के 57 जिलों में 1604 लोग कोरोना संक्र’मित हुए हैं। जिसमें से 206 म’रीजो को पूरी तरह उप’चार कर ठीक कर दिया गया है। वहीं 1374 अब भी इस वाय’रस की चपे’ट में है।

इसको देख प्रमुख सचिव का कहना कि “आपने देखा होगा कि पिछले कई दिनों से थ्री डिजिट यानी 100 से ज्यादा की संख्या में के’स ब’ढ़ रहे थे। लेकिन अब टू डिजिट में के’स आ रहे हैं। ये नया ट्रें’ड पिछले 2-3 दिनों में देखने में आया है। अब कोरोना संक्र’मित के’स ब’ढ़ने की दर प्रतिदिन 100 से कम हुई है। कल शाम से अब तक 1510 से 1604 केस हुए हैं। ये 94 केस सि’र्फ 13 जिले से आए हैं। इनमें भी 80 केस सिर्फ 5 जिलों से हैं। इनमें कानपुर, सहारनपुर, आगरा, फिरो’जाबाद, मुरा’दाबाद शा’मिल हैं। बाकी 14 केस 8 जिलों से रि’पोर्ट हुए हैं।” उन्होंने कहा कि हॉट’स्पॉट बनाकर कंटे’नमेंट की र’णनीति का फा’यदा मिलता हुआ नजर आ रहा है। वहीं प्रमुख सचिव ने ओपीडी के ब’न्द होने के कार’ण टेली कंस’ल्टेश’न के जरिए डॉक्टरों से लोगों की बात करवाने का दा’वा किया।

Health
और साथ ही कहा के हमारे सर’कारी अस्प’तालों की तरफ से नंबर जारी कर दिया गया है जिसके जरिए कोई भी व्यक्ति सीधे डॉक्टर से फोन पर बात कर सकता है। प्रमुख सचिव ने बताया कि “पूल टे’स्टिंग लगातार चल रही है। केजीएमयू, पीजीआई, सैफाई और मेरठ में पूल टे’स्टिंग का काम चल रहा है। अधिक उम्र के जो लोग हैं, उन्हें संक्र’मण से ब’चाने की जरू’रत है। अभी तक 24 लोगो में से 21 लोग ऐसे हैं, जिन्हें कोई और बीमा’री भी थी। वहीं 3 की उम्र 50 से ज्यादा थी प्रमुख सचिव ने कहा कि मा’स्क लगाने का लाभ भी हमें दि’खाई दे रहा है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.