उत्तराखंड को चुनाव से करीब 1 साल पहले ही तीरथ सिंह रावत के तौर पर अपना नया मुख्यमंत्री मिला है. अब कुर्सी मिलने के बाद सीएम साहब ने सबसे पहले हरिद्वार के शाही स्नान में हेलीकॉप्टर से फूलों की बारिश करवा दी. लेकिन इसके बाद सीएम रावत की बयानबाजी खूब चर्चा में है. पीएम मोदी को भविष्य में भगवान राम की तरह पूजे जाने वाला बयान पहले ही सुर्खियां बटोर रहा था, वहीं अब नए नवेले सीएम ने महिलाओं की जींस पर कमेंट कर दिया है.

अपने राजनीतिक दिनों की शुरुआत में संघ के प्रचारक रहे सीएम तीरथ सिंह रावत ने एक सभा को संबोधित करते हुए अपना एक किस्सा सुनाया. जिसमें वो महिलाओं के रिप्ड (फटी हुई) जींस से नाराज नजर आ रहे हैं. तीरथ सिंह ने कहा, “मैं एक दिन जयपुर से आ रहा था, अगले दिन करवाचौथ था. जब मैं जहाज में बैठा और मेरे साथ दो दिन लोग थे.

मेरे साथ के लोगों ने कहा कि करवाचौथ है, जाना तो है. सालभर नाराज रखते हैं, तो एक दिन तो खुश रखना है. जहाज में मेरे बगल में एक बहनजी बैठी थीं, बातचीत हुई और जब मैंने उनकी तरफ देखा तो नीचे गम बूट थे, जब और ऊपर देखा तो घुटने फटे थे. हाथ देखे तो कई कड़े थे. जब घुटने देखे तो मैंने पूछा कि कहां जाना है, बोला दिल्ली जाना है. क्या करती हैं, एनजीओ चलाती हूं. मैंने कहा एनजीओ चलाती हूं, घुटने फटे दिखते हैं, समाज के बीच में जाते हैं. क्या संस्कार दोगे.”

यानी सीएम साहब की मानें तो रिप्ड जींस पहनने से समाज में एक बुरा मैसेज जाता है और संस्कार भी ठीक नहीं होते हैं. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि घुटने फटे दिखते हैं और समाज के बीच जाती हो… यानी अगर कोई महिला रिप्ड जींस पहनकर समाज के बीच जाती हैं तो इसे उनकी नजर में गलत माना जाएगा. अब तीरथ सिंह रावत को मुख्यमंत्री बने मुश्किल से एक हफ्ता भी नहीं हुआ है और वो महिलाओं के पहनावे पर टिप्पणी करने लगे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.