आज शिवसेना- NCP-कांग्रेस की गठबं’धन वाली महा विकास अघा’ड़ी सर’कार को बहुम’त साबित करना था। सुप्रीम कोर्ट के आ’देशानुसा’र ये कार्रवा’ही live टेलीकास्ट की जा रही थी। इस कार्रवा’ही की शुरुआत में ही विप’क्ष की ओर से स’दन की कार्र’वाही को असंवैधा’निक बताया गया। जब इस मा’मले में प्रोटे’म स्पी’कर ने उन्हें पर्या’प्त संविधान सम्म’त जवा’ब दिए तो विपक्ष ने सद’न से वॉ’क आ’उट कर दिया। बाहर आकर देवेंद्र फडनवीस अपनी ओर से मीडिया में ब’यान देते रहे और सदन में बहुम’त परी’क्षण की कार्र’वाही चलती रही। कुल 169 विधायकों का सम’र्थन साबि;त करके सर;कार ने अपना बहुम;त सा’बित कर दिया।

वहाँ सदन में बहुम’त सा;बित हो रहा था और विपक्ष बाहर ख’ड़े सारी प्रक्रि’या को असंवै’धानिक बता रहे थे। विप’क्ष की ओर से देवेंद्र फडनवीस ने कहा कि “सदन में हो रही कार्र’वाही असंवैधा’निक है। उन्होंने प्रोटेम स्पीकर के चु’नाव पर सवा’ल उठाए, साथ ही ये भी कहा कि शिवाजी पार्क में जिन्होंने भी श’पथ लिए वो संविधान के अनुकूल नहीं हैं क्योंकि उस शपथ को संविधा’निक तरह से नहीं लिया गया बल्कि उसमें पार्टी और परिवार के व्यक्तियों के नामों का उल्लेख किया गया। इस वजह से शपथ ग्रह’ण भी अवै’ध है।”

Protem speaker Dilip Patil

इसके अलावा विप’क्ष ने कहा कि “स्पीकर का चु’नाव भी जल्द’बाज़ी में किया गया क्योंकि वोटिं’ग से स्पीकर चु’नने पर उनकी पार्टी का स्पीकर नहीं चु’ना जाता” इस तरह के आरो’प लगाते हुए विप’क्ष बाहर ब’यान देते रहे और अंदर उद्धव सर’कार ने ज’नता के सामने बहुम’त सा’बित कर दिया। फ़िलहाल विप’क्ष ने सदन की कार्र’वाही को असंवै’धानिक बताते हुए उसका हि’स्सा बनने से म’नाकर दिया और सीधे राज्यपाल से मिलने चले गए, जहाँ वो सरकार के ख़ि’लाफ़ अपने सारे आरो’प उन्हें बताने की बात कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.