राजस्थान में उपचुनाव होने वाले हैं. ऐसे में इसे लेकर भाजपा और कांग्रेस भी काफी सक्रीय हो गयी है. आपको बता दें कि यहाँ चार सीटों पर उपचुनाव होने वाला है. इस बीच गृह मंत्री अमित शाह ने वसुंधरा राजे से मुलाकात की है. दरअसल वसुंधरा राजे काफी वक़्त से दिल्ली में ही अपने आवास में रह रही हैं और यहीं रहकर पार्टी के नेताओं से मुलाकात कर रही हैं. वसुंधरा राजे से पहले भी पार्टी के कई बड़े नेताओं ने अमित शाह से मुलाकात की थी. राजस्थान भाजपा काफी वक़्त ने अंतर्कलह का सामना कर रही थी.ऐसे में दूसरी तरफ राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत अपने कैबिनेट का विस्तार कर रहे हैं. इसके अलावा राजस्थान विधानसभा में भाजपा विधायक दल के नेता गुलाबचंद कटारिया ने दावा किया हुआ है कि इस मंत्रीमंडल के विस्तार से पहले ही सरकार की जाएगी.
आपको बता दें कि बीते निकाह चुनाव में भाजपा का प्रदर्शन कुछ ख़ास अच्छा नहीं था.

ऐसे में अब इस मुलाकात के कई सियासी माएने निकाले जा रहे है. एक तरफ तो जहाँ भाजपा के सामने सबसे बड़ी चुनौती आपसी कलह को समाप्त करने की है तो दूसरी तरफ संगठन को मज़बूत करने की भी है. वरना भाजपा को एक बार फिर से बड़े नुकसान के लिए तैयार रहना पड़ सकता है. इसके लिए अब भाजपा एक बार फिर से राज्य के संगठन में राजे को सक्रीय करना चाह रही है.

वहीँ राजे काफी वक़्त से पार्टी के कार्यक्रम से दूर हैं. पार्टी की कोर कमिटी की मीटिंग में भी वह शामिल नहीं हुई थीं लेकिन अब इस मुलाकात के बाद कुछ बदलाव आ सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.