मोहर्रम को लेकर योगी सरकार की गाइडलाइन हुई जारी,कहा-‘जुलूस और ताजिया…’

August 2, 2021 by No Comments

उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से इस महीने आने वाले मो’हर्रम के लिए दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं। दरअसल बीते 2 सालों से कोरोना महामारी के दौरान मो’हर्रम का जुलूस नहीं निकाला गया है। दरअसल योगी सरकार ने मो’हर्रम के जु’लूस पर पाबंदी लगाई हुई थी।

माना जा रहा है कि इस बार भी कोरोना महामा’री के मद्देनजर सरकार इसी तरह का फैसला ले सकती है। बताया जाता है कि योगी सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइन के मुताबिक 19 अगस्त को प्रशासन ने किसी भी तरीके का जु’लूस निकालने पर पाबंदी लगा दी है।

इसके साथ ही मोहर्रम के लिए ध’र्म गु’रुओं से संवाद कर कोरोना महामारी के दिशा निर्देशों का भी ध्यान रखने के लिए कहा गया है।
इस मामले में डीजीपी ने पुलिस अधीक्षकों को साफ आदेश दिया है कि सभी महत्वपूर्ण स्थलों की चेकिंग करें और बीट स्तर पर हालातों का जायजा लेकर व्यवस्था बनाएं।

आपको बता दें कि मोहर्रम मुस्लिम समुदाय के लिए बेहद खास माना जाता है दरअसल मोहर्रम का पर्व हजरत इमाम हुसैन की श’हादत की याद में मनाया जाता है। हजरत इमाम हुसैन कर्बला की जं’ग में शहीद हुए थे।

इमाम हुसैन, पैगंबर मो’हम्मद के नाती थे और दुनियाभर में शिया मुस्लिम मोहर्रम मनाते हैं। मो’हर्रम को लेकर प्रदेश के कई थानों में शांति समिति की बैठक भी हुई। इस बैठक में थानाध्यक्ष ने मुस्लिम सुमदाय से कोविड गाइडलाइन का पालन कर अपना कार्यक्रम करने की अपील की है।

इसके साथ ही फैसला यह भी लिया गया है कि कर्बला में मेला भी नहीं लगेगा, इसके लिए दो-तीन की लोग ही ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे। गौरतलब है कि इस वक्त उत्तर प्रदेश में कोरोना सं’क्रमण के मरीजों की संख्या भले ही कम है। लेकिन आने वाली कोरोना सं’क्रमण की तीसरी लहर के दौरान मरीजों के साथ बढ़ने की आ’शंका जताई जा रही है।

इसी वजह से योगी सरकार ने इस बार फिर मोहर्रम के जु’लूस पर पाबंदी लगा दी है। जिसमें हजारों की संख्या में लोग एकजुट होते हैं। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के कई जिले ऐसे हैं जिसमें कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या एक भी नहीं हैं। इन जिलों में अलीगढ़, अमरोहा, हाथरस, एटा, फर्रुखाबाद, कासगंज, कौशाम्बी, महोबा, प्रतापगढ़ और श्रावस्ती हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *