उत्तर प्रदेश में एक बार फिर बंपर बहुमत के साथ भारतीय जनता पार्टी की सत्ता में वापसी हुई है.इसके बाद अब शपथ ग्रहण का इंतजार किया जा रहा है.सूत्रों के हवाले से खबर है कि 21 मार्च को दोपहर तीन बजे के बाद योगी आदित्यनाथ सीएम पद की शपथ लेंगे.मंत्रियों की लिस्ट पर अभी मंथन जारी है.

बता दें कि बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और उत्तर प्रदेश के कार्यवाहक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित पार्टी के अन्य नेताओं ने बुधवार की शाम राज्य में सरकार गठन पर चर्चा की.

सूत्रों ने बताया कि बीजेपी के राष्ट्रीय मुख्यालय में चार घंटे से अधिक समय तक चली बैठक में नई सरकार के गठन,नए मंत्रियों और आगामी विधान परिषद चुनावों के लिए उम्मीदवारों के नामों पर चर्चा हुई.

बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) बीएल संतोष, राज्य चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा, उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और संगठन के प्रदेश महासचिव सुनील बंसल मौजूद थे.

बीजेपी की है ये रणनीति
मालूम हो कि योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल के सहारे बीजेपी 2024 लोकसभा चुनाव को भी साधने की कवायद कर रही है.

इसलिए बीजेपी आलाकमान और यूपी बीजेपी कोर ग्रुप के नेता लगातार बैठक कर रहे हैं. बीजेपी 2024 के लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए ऐसे नेताओं को मंत्रिमंडल में शामिल करना चाहती है .

जिनके जरिए तमाम मतदाताओं को साधा जा सके और लोकसभा चुनाव में ज्यादा से ज्यादा सीटें हासिल की जा सके.