लॉ’क डा’उन के चलते योगी सरकार ने दूसरे राज्यों से आने वाले श्रमिकों के सम्बन्ध में अहम् फ़ैसला लिया है. सरकार ने घोषणा की है कि इस लॉ’क डा’उन के चलते दूसरे राज्यों से प्रदेश आने वाले मजदूरों को योगी सरकार द्वारा एक हजार रूपए दिए जाएंगे। इसके साथ ही योगी सरकार ने आदेश दिया के प्रदेश में कोई भी व्यक्ति भू’खा नहीं रहना चाहिए। हर परिवार के लिए खाने का ज़रूरी समन उप’लब्ध करवाया जाए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ये बातें गुरुवार को हुई टीम 11 के साथ एक बैठक में कहीं।

सीएम योगी ने आदेश दिया कि दूसरे राज्यों में फं’से प्रवासी श्रमिकों को सही सला’मत प्रदेश वापस लाया जाए। उन्होंने कहा कि कोई भी श्रमिक पैदल, दोपहि’या वाहन आदि किसी भी असु’रक्षित साधन से यात्रा न करे। उन्होंने आदेश दिया कि सभी श्रमिकों को बस और ट्रेन जैसे सुर’क्षित साधनों के जरिए ही पहुंचाने का इंतजाम करे। मुख्यमंत्री ने कहा कि “गृह जनपद में क्वारंटा’इन सेन्टर पर प्रवासी कामगार-श्रमिक की थर्मल स्कै’निंग की जाए। कोरो’ना की दृ’ष्टि से संदिग्ध प्रवासी कामगार-श्रमिक की पूल टेस्टिंग के माध्यम से मेडिक’ल जांच भी की जाए।”

उन्होंने कहा कि लोगों के बाहर निकालने पर फेस मस्क लगाना आनि’वर्य है। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि “लॉ’कडा’उन के दौरान सप्लाई चे’न के सुचारू संचालन व्यवस्था प्रभावी ढंग से जारी रहे। सभी 75 जनपदों में नामित किए गए आईएएस अधिकारी तथा वरिष्ठ पीसीएस अधिकारी द्वारा क्वारंटाइन सेन्टर, शेल्टर होम और कम्यु’निटी किचन की साफ-सफा’ई एवं सुर’क्षा प्रबन्धों का निरन्तर अनुश्रवण करते हुए व्यवस्थाओं को बेहतर बनाया जाए। होम क्वारंटाइन में रहने वाले प्रवासी काम’गार,श्रमिक की निग’रानी के लिए निग’रानी समितियों के सर्विलांस कार्य को ठीक किया जाए।

बताया जा रहा है कि सर्विलांस टीम द्वारा अब तक लगभग 3 करोड़ से ज़्यादा लोगों का स’र्वे किया जा चुका है। मुख्यमंत्री ने कहा कि महिला स्वयं सहा’यता समूहों द्वारा बनाए गए अचार, पापड़ आदि की कम्युनि’टी किचन में आपूर्ति की जाए। महिला स्वयं सहा’यता समूहों को मस्क और अंगौछा बनाने जैसे कामों से जुड़ते हुए उनकी आमदनी बढ़ा दी जा सकती है। बता दें कि अब तक पूरे प्रदेश में 1973 कोरो’ना संक्र’मित लोगों को पूरी तरह से ठीक किया जा चुका है।

बताया जा रहा है कि अब उत्तर प्रदेश में कोरो’ना से संक्र’मित लोगों के मामले पहले के मुकाब’ले बहुत कम हो रहे है और साथ ही अधिक लोगों के ठीक होने की खबर आ रही है। गुरुवार को उत्तर प्रदेश के प्रमुख स्वास्थ्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि इस समय प्रदेश में कोरो’ना संक्र’मित 1730 म’रीज़ मौजूद है वहीं 1973 लोगों को ठीक कर उनको घर रवा’ना कर दिया गया है। साथ ही उन्होंने ये भी बताया के इस समय उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में ये वाय’रस फैल चुका है और इस समय प्रवासी श्रमिक को भी प्रदेश वापस लाया जा रहा है तो हम लोगों को इस समय ज़्यादा साव’धान रहने की जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.