योगी सरकार की वापसी के साथ ही समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और विधायक आजम खान के परिवार की मु’श्किले बढ़ती जा रही हैं। विधानसभा चुनाव के तुरंत बाद आजम खान की पत्नी और बेटे के शस्त्र लाइसेंस अब र’द्द हो सकते है। शस्त्र लाइसेंस निरस्सीकरण को लेकर रामपुर पुलिस ने जिलाधिकारी को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है।

रामपुर जिले एडिशनल एसपी संसार सिंह ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि आजम खान की पत्नी और पूर्व विधायक तजीन फातिमा और बेटे व सपा विधायक अब्दुल्ला आजम खान के खि’लाफ दर्ज मामलों के मद्देनज़र हमने उनके श’स्त्र लाइसेंस निरस्त करने की रिपोर्ट डीएम को भेजी है।

तजीन के पास रा’इफल और आजम के पास रिवॉ’ल्वर का लाइसेंस है। अब डीएम कोर्ट में निर’स्तीकरण के मामले की सुनवाई होगी।आपको बता दें कि इससे पहले समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान के श’स्त्र लाइसेंस का भी मामला सामने आया था।

अब यह मामला उनकी पत्नी और उनके बेटे से संबंधित है। हालांकि अभी उनके शस्त्र लाइसेंस निर’स्त तो नहीं हुए हैं। बता दें कि साल 2017 में उत्तर प्रदेश में योगी सरकार बनने के बाद से आजम खान का परिवार लगातार एक के बाद एक मामलों का सामना कर रहा है।

परिवार के खि’लाफ 200 से ज्यादा मामले दर्ज हैं।आजम खान खुद पिछले 2 साल से सीतापुर जे’ल में कै’द हैं। वहीं उनकी पत्नी भी 1 साल से ज्यादा समय से जे’ल से बाहर आ चुकी हैं। आजम खान के बेटे और विधायक अब्दुल्ला आजम खान भी 18 महीने जेल में रहने के बाद जमानत पर रिहा हो गए हैं।